top of page

Saturn Retrograde 29th June 2024 - वक्री शनि 29th जून 2024

शनि वक्री! 29 जून 2024 से क्या बदलेंगे आपके सितारे? जानें हर राशि पर इसका प्रभाव और उपाय, ताकि रहें हर चुनौती के लिए तैयार! पढ़ें पूरी जानकारी और पाएं सफलता की चाबी!

शनि के वक्री होने का प्रभाव:


29 जून 2024 से शनि वक्री हो रहे हैं, जिसका प्रभाव सभी राशियों पर पड़ेगा। शनि के वक्री होने का मतलब है कि शनि उल्टा चल रहा है, जो विभिन्न राशियों के लिए विभिन्न परिणाम लेकर आता है। शनि 15 नवंबर 2024 को पुनः मार्गी हो जाएंगे। आइए जानते हैं आपकी राशि पर इसका क्या प्रभाव पड़ेगा और इससे बचने के उपाय।


मेष (Aries)

प्रभाव: कार्य में बाधाएं आ सकती हैं और स्वास्थ्य संबंधित समस्याएं हो सकती हैं। करियर में उतार-चढ़ाव आ सकते हैं और मेहनत के बावजूद सफलता में देरी हो सकती है।

उपाय: शनि देव को तेल चढ़ाएं और शनि मंत्र "ॐ शं शनैश्चराय नमः" का जाप करें।


वृषभ (Taurus)

प्रभाव: आर्थिक मामलों में सतर्कता बरतनी होगी। अनावश्यक खर्चों से बचें। पारिवारिक जीवन में कुछ तनाव हो सकता है।

उपाय: काले तिल का दान करें और शनि चालीसा का पाठ करें।


मिथुन (Gemini)

प्रभाव: व्यक्तिगत जीवन में तनाव और मतभेद हो सकते हैं। किसी भी प्रकार के विवाद से बचें और शांति बनाए रखें।

उपाय: सरसों के तेल का दीपक जलाएं और शनिदेव की पूजा करें।


कर्क (Cancer)

प्रभाव: करियर में चुनौतियों का सामना करना पड़ सकता है। मानसिक तनाव बढ़ सकता है और स्वास्थ्य पर ध्यान देने की जरूरत है।

उपाय: लोहे की वस्तु का दान करें और शिवलिंग पर जल चढ़ाएं।


सिंह (Leo)

प्रभाव: वित्तीय मामलों में सतर्कता बरतनी होगी। अनावश्यक खर्चों से बचें और धैर्य से काम लें।

उपाय: शनि यंत्र की स्थापना करें और पीपल के वृक्ष की पूजा करें।


कन्या (Virgo)

प्रभाव: रिश्तों में तनाव बढ़ सकता है। स्वास्थ्य का ध्यान रखें और किसी भी प्रकार के मानसिक तनाव से बचें।

उपाय: हनुमानजी की पूजा करें और शनि मंत्र "ॐ शं शनैश्चराय नमः" का जाप करें।


तुला (Libra)

प्रभाव: काम में बाधाएं आ सकती हैं। आर्थिक मामलों में सतर्कता बरतें और किसी भी प्रकार के निवेश से पहले सोच-समझ कर निर्णय लें।

उपाय: नीले कपड़े पहनें और शनि चालीसा का पाठ करें।


वृश्चिक (Scorpio)

प्रभाव: पारिवारिक जीवन में तनाव और असहमति हो सकती है। स्वास्थ्य का विशेष ध्यान रखें।

उपाय: काले कपड़े का दान करें और शनि मंत्र "ॐ शं शनैश्चराय नमः" का जाप करें।


धनु (Sagittarius)

प्रभाव: शिक्षा में बाधाएं आ सकती हैं। मानसिक तनाव हो सकता है और ध्यान केंद्रित करने में कठिनाई हो सकती है।

उपाय: नीले फूल भगवान शिव को चढ़ाएं और शनि चालीसा का पाठ करें।


मकर (Capricorn)

प्रभाव: काम में देरी हो सकती है। आर्थिक मामलों में सतर्कता बरतनी होगी और धैर्य बनाए रखना होगा।

उपाय: काले तिल का दान करें और शनि मंत्र "ॐ शं शनैश्चराय नमः" का जाप करें।


कुंभ (Aquarius)

प्रभाव: करियर में चुनौतियां आ सकती हैं। किसी भी प्रकार के बदलाव से पहले सोच-समझकर निर्णय लें।उपाय: शनिदेव को तेल चढ़ाएं और शनि चालीसा का पाठ करें।


मीन (Pisces)

प्रभाव: आर्थिक मामलों में सतर्कता बरतनी होगी। स्वास्थ्य का ध्यान रखें और अनावश्यक विवादों से बचें।

उपाय: हनुमानजी की पूजा करें और शनि मंत्र "ॐ शं शनैश्चराय नमः" का जाप करें।


शनि के वक्री होने का समय चुनौतियों का समय हो सकता है, लेकिन उचित उपायों से आप इन चुनौतियों का सामना कर सकते हैं। हमेशा सकारात्मक रहें और धैर्य बनाए रखें। शनि 15 नवंबर 2024 को पुनः मार्गी हो जाएंगे, तब परिस्थितियों में सुधार देखने को मिलेगा।


ऐसी और जानकारी के लिए Astrologer Rajni Kapoor को फॉलो करें।

Comments


bottom of page